आज की मुरली 2 Dec 2018 BK murli in Hindi

BrahmaKumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 02-12-18 प्रात:मुरली ओम् शान्ति ''अव्यक्त-बापदादा'' रिवाइज: 05-03-84 मधुबन शान्ति की शक्ति का महत्व शान्ति के सागर बाप अपने शान्ति के अवतार बच्चों से मिलने आये हैं। आज के संसार में सबसे आवश्यक चीज़ शान्ति है। उसी शान्ति के दाता तुम बच्चे हो। कितना भी कोई... Continue Reading →

आज की मुरली 1 Dec 2018 BK murli in Hindi

BrahmaKumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 01-12-2018 प्रात:मुरली ओम् शान्ति "बापदादा" मधुबन ''मीठे बच्चे - तुम सबको जीवनमुक्ति का मंत्र देने वाले सतगुरू के बच्चे गुरू हो, तुम ईश्वर के बारे में कभी भी झूठ नहीं बोल सकते'' प्रश्नः- सेकेण्ड में जीवनमुक्ति प्राप्त करने की विधि और उसका गायन क्या है?... Continue Reading →

आज की मुरली 30 Nov 2018 BK murli in Hindi

BrahmaKumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 30-11-2018 प्रात:मुरली ओम् शान्ति "बापदादा" मधुबन "मीठे बच्चे - तुम ब्राह्मणों का यह नया झाड़ है, इसकी वृद्धि भी करनी है तो सम्भाल भी करनी है क्योंकि नये झाड़ को चिड़ियायें खा जाती हैं'' प्रश्नः- ब्राह्मण झाड़ में निकले हुए पत्ते मुरझाते क्यों हैं? कारण... Continue Reading →

आज की मुरली 29 Nov 2018 BK murli in Hindi

Brahma Kumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 29-11-2018 प्रात:मुरली ओम् शान्ति "बापदादा" मधुबन "मीठे बच्चे - ज्ञान है मक्खन, भक्ति है छांछ, बाप तुम्हें ज्ञान रूपी मक्खन देकर विश्व का मालिक बना देते हैं, इसलिए कृष्ण के मुख में मक्खन दिखाते हैं'' प्रश्नः- निश्चयबुद्धि की परख क्या है? निश्चय के आधार... Continue Reading →

आज की मुरली 28 Nov 2018 BK murli in Hindi

Brahma Kumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 28-11-2018 प्रात:मुरली ओम् शान्ति "बापदादा" मधुबन "मीठे बच्चे - मनुष्य को देवता बनाने की सर्विस का तुम्हें बहुत-बहुत शौक होना चाहिए लेकिन इस सर्विस के लिए स्वयं में हड्डी धारणा चाहिए'' प्रश्नः- आत्मा मैली कैसे बनती है? आत्मा पर कौन सी मैल चढ़ती है?... Continue Reading →

आज की मुरली 27 Nov 2018 BK murli in Hindi

Brahma Kumaris murli today in Hindi Aaj ki gyan murli Madhuban 27-11-2018 प्रात:मुरली ओम् शान्ति "बापदादा" मधुबन "मीठे बच्चे - तुम्हें बाप समान मुरलीधर जरूर बनना है, मुरलीधर बच्चे ही बाप के मददगार हैं, बाप उन पर ही राज़ी होता है" प्रश्नः- किन बच्चों की बुद्धि बहुत-बहुत निर्मान हो जाती है? उत्तर:- जो अविनाशी ज्ञान... Continue Reading →

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑