12 May 2018 Aaj ki Murli ka Saar (Hindi)

Brahma Kumaris Murli essence today in Hindi – Aaj ki Murli ka Saar – 12 May 2018 – BapDada – Madhuban –

“मीठे बच्चे – मात-पिता को पूरा-पूरा फालो कर सपूत बनो, याद और श्रीमत के आधार पर ही बाप के तख्तनशीन बनेंगे।”

Q- किस पुरुषार्थ से सेकण्ड में जीवन्मुक्ति प्राप्त हो सकती है?

A- पुरुषार्थ करो अन्तकाल में एक बाप के सिवाए दूसरा कोई भी याद न आये। इसके लिए बुद्धि को गृहस्थ व्यवहार में रहते भी न्यारा रखो, सब कुछ भूलते जाओ, श्रीमत पर चलते रहो। किसी को भी काँटा नहीं लगाओ। हर कदम में मात-पिता को फालो करो। कोई भी कमी है तो अविनाशी सर्जन को सच-सच बतलाओ।

D- 1) मात-पिता के तख्त को जीतने की दौड़ लगानी है। पूरा फॉलो करना है।

2) पुराने कॉटों से सम्बन्ध तोड़ “मेरा तो एक दूसरा न कोई” इस निश्चय में पक्का रहना है।

V- हर एक को प्यार और शक्ति की पालना देने वाले प्यार के भण्डार से भरपूर भव—–जो बच्चे जितना सभी को बाप का प्यार बांटते हैं उतना और प्यार का भण्डार भरपूर होता जाता है। जैसे हर समय प्यार की बरसात हो रही है, ऐसे अनुभव होता है। एक कदम में प्यार दो और बार-बार प्यार लो। इस समय सबको प्यार और शक्ति चाहिए, तो किसको बाप द्वारा प्यार दिलाओ, किसको शक्ति …जिससे उनका उमंग-उत्साह सदा बना रहे – यही विशेष आत्माओं की विशेष सेवा है।

S- जो मायावी चतुराई से परे रहते हैं वही बाप को अति प्रिय हैं।

Comments are closed.

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑

%d bloggers like this: